चालाक कुत्ता नैतिक कहानी: Clever Dog Moral Story In Hindi

0
636
चालाक कुत्ता नैतिक कहानी: Clever Dog Moral Story In Hindi
चालाक कुत्ता नैतिक कहानी: Clever Dog Moral Story In Hindi

इस लेख में चालाक कुत्ता नैतिक कहानी: Clever Dog Moral Story In Hindi हिंदी में लिखा है. इस लेख में कुत्ता अपनी चतुराई दिखाता है पर उसकी चतुराई अपने पर भारी पड़ जाती है  इस लेख को पूरा पढ़ें और  शिक्षा लेना ना भूलें.

कहानी का नामचालाक कुत्ता नैतिक कहानी: Clever Dog Moral Story In Hindi
कहानी के पात्रकुत्ता

कहानी के पात्र: Story characters

 कुत्ता dog
कुत्ता dog
नामकुत्ता
रंगभूरा
आयु12 साल

चालाक कुत्ता नैतिक कहानी: Clever Dog Moral Story In Hindi

एक गाँव में एक कुत्ता था. वह बहुत लालची था. वह भोजन की खोज में इधर – उधर भटकता रहा. लेकिन कही भी उसे भोजन नहीं मिला. अंत में उसे एक होटल के बाहर से मांस का एक टुकड़ा मिला. वह उसे अकेले में बैठकर खाना चाहता था. इसलिए वह उसे लेकर भाग गया. एकांत स्थल की खोज करते – करते वह एक नदी के किनारे पहुँच गया. अचानक उसने अपनी परछाई नदी में देखी.

इसे भी पढ़ें :- धैर्य का लाभ की कहानी: Benefit of patience Moral Story In Hindi

उसने समझा की पानी में कोई दूसरा कुत्ता है जिसके मुँह में भी मांस का टुकड़ा है. उसने सोचा क्यों न इसका टुकड़ा भी छीन लिया जाए तो खाने का मजा दोगुना हो जाएगा. वह उस पर जोर से भौंका. भौंकने से उसका अपना मांस का टुकड़ा भी नदी में गिर पड़ा. अब वह अपना टुकड़ा भी खो बैठा. अब वह बहुत पछताया तथा मुँह लटकाता हुआ गाँव को वापस आ गया.

कहानी से शिक्षा Moral of the Story

  • लालच बुरी बला है. हमें कभी भी लालच नहीं करना चाहिए. जो भी इंसान लालच करता है वह अपनी लाइफ में कभी भी खुश नहीं रह सकता.
  • हमें अपनी मेहनत या किस्मत का जितना भी मिल गया. उससे अपना काम निकालना चाहिए. लेकिन अगर हम थोड़ा ज्यादा के चक्कर में लालच करेंगे तो हमारे पास अभी जितना है उससे भी हाथ धोना पड़ सकता है.
  • इसे भी पढ़ें :- https://www.youtube.com/watch?v=TEGjwC-6Itc

इसलिए कहते है ज्यादा लालच अच्छा नहीं होता. दोस्तों

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here