घमंडी मुर्गे की कहानी: Boastful Hen Story In Hindi

0
522

इस लेख में हमने आपको घमंडी मुर्गे की कहानी: Boastful Hen Story In Hindi हिंदी में लिखा है नैतिक भाव के साथ, चलिए कहानी को पढ़ने का आनंद उठाएं और आखिर में नैतिक भाव के साथ कहानी का कांत करें, हमें आशा है कि आपको हमारी कहानियां मूल रूप से पसंद आती होंगी।

कहानी का नामघमंडी मुर्गे की कहानी: Boastful Hen Story In Hindi
कहानी के पात्रमुर्गे, चील

कहानी के पात्र: Story characters

नाममुर्गे
रंगसफेद
आयु3 साल
eagle
eagle
नामचील
रंगभूरा
आयु7 साल

घमंडी मुर्गे की कहानी: Boastful Hen Story In Hindi

किसी जंगल में दो मुर्गे रहते थे। दोनों एक ही बाड़े में अपना घर बनाना चाहते थे। दोनों को समझ नहीं आ रहा था कि कैसे इस समस्या का हल निकालें। उन्होंने सोचा क्यों न आपस में लड़ कर इसका हल निकालें। लड़ाई में जो भी जीतेगा, वही बाड़े में अपना घर बनाएगा।

इसे भी पढ़ें – धैर्य का लाभ की कहानी: Benefit of patience Moral Story In Hindi

दोनों मुर्गे पूरी ताकत से लड़ने लगे। लड़ते-लड़ते एक मुर्गा थक गया और वहाँ से भाग गया। जीतने वाले मुर्गे को अपनी जीत पर इतना घमंड हुआ कि वह उड़ कर एक दीवार के ऊपर जा बैठा और ज़ोर से बाँग देने लगा-कुकडू-कू! दुर्भाग्यवश, पास ही एक चील बैठी हुई थी। मुर्गे की बाँग सुनते ही वह उस पर झपट पड़ी और उसे अपने पंजों में जकड़ कर वहाँ से उड़ गई।

कहानी से शिक्षा Moral of the Story

  • जो खुद पर घमंड करते हैं, एक दिन भगवान उनको सबक ज़रूर सिखाते हैं।

इसे भी पढ़ें – https://www.youtube.com/watch?v=5SWYwXEuA8s

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here